Press Releases

Print

Press Note

Publish Date: 15-03-2011

जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में व्यावहारिक अनुभव से अर्जित पारम्परिक ज्ञान के संरक्षण, उनके विस्तार तथा व्यवहरण के प्रयास आज और अधिक प्रासंगिक हो गये है।

Source : Rajbhawan-Uttarakhand, Last Updated on 15-04-2021